VIRAL SACH

Fact Check : इस तस्‍वीर में कोई भगोड़ा कारोबारी नहीं, बल्कि भाजपा नेता रितेश तिवारी हैं

नई दिल्‍ली (Vishvas News)। पश्चिम बंगाल में चुनाव की दस्‍तक के साथ ही राज्‍य के नेताओं से जुड़ी फर्जी खबरें, दुष्‍प्रचार और अफवाहों का दौर भी शुरू हो चुका है। इसी क्रम में दो तस्‍वीरों का एक कोलाज वायरल हो रहा है। इसमें देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और गृह मंत्री अमित शाह के एक साथ एक शख्‍स दिख रहे हैं। यूजर्स दावा कर रहे हैं कि यह शख्‍स कारोबारी नितिन संदेसरा है, जो विदेश भाग गया है.
विश्‍वास न्‍यूज ने जब सच जानने के लिए तस्‍वीर की जांच की तो पता चला कि तस्‍वीर में नजर आ रहा शख्‍स नितिन संदेसरा नहीं, बल्कि पश्चिम बंगाल के भाजपा नेता रितेश तिवारी हैं। कुछ लोग जानबूझकर भाजपा नेता की तस्‍वीर को फर्जी दावों के साथ वायरल कर रहे हैं।

क्‍या हो रहा है वायरल
फेसबुक यूजर डिंपल सिंह ने 2 जनवरी को दो तस्‍वीरों के एक कोलाज को अपलोड करते हुए लिखा : ‘सब को पता है कि #5700करोड रूपये का चुना लगाकर #नायजेरिया नायजीरी भागने वाला #नितीनसंदेसरा किसका दोस्त है पर #गोदीमीडिया #खामोश है’

फेसबुक पोस्‍ट के अर्काइव्‍ड वर्जन को यहां देखें। इस कोलाज को दूसरे यूजर्स भी खूब वायरल कर रहे हैं।

पड़ताल
विश्‍वास न्‍यूज ने सबसे पहले कोलाज की पहली तस्‍वीर को गूगल रिवर्स इमेज टूल में अपलोड करके सर्च किया। ओरिजनल तस्‍वीर हमें इंडियन एक्‍सप्रेस की वेबसाइट पर मिली। 19 अप्रैल 2016 के एक लेख में इस्‍तेमाल की गई इस तस्‍वीर के कैप्‍शन में बताया गया कि राजनाथ सिंह के साथ दिख रहे शख्‍स का नाम रितेश तिवारी है।
पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए हमने भाजपा नेता रितेश तिवारी के बारे में जानकारी जुटाना शुरू किया। फेसबुक और ट्विटर पर हमें उनकी प्रोफाइल मिली। ट्विटर पर मौजूद प्रोफाइल के अनुसार, रितेश तिवारी कोलकाता में रहते हैं। फेसबुक अकाउंट पर हमें इनका मोबाइल नंबर मिला।
विश्‍वास न्‍यूज ने रितेश तिवारी और नितिन संदेसरा की तस्‍वीरों की तुलना की। दोनों की तस्‍वीर को आप नीचे देख सकते हैं।


अब हमें यह जानना था कि भगोड़े कारोबारी नितिन संदेसरा कौन है। गूगल सर्च से हमें जागरण डॉट कॉम पर एक खबर मिली। खबर में बताया गया कि बैंकों का लोन लेकर विदेश भागने वाला नितिन संदेसरा गुजरात का रहने वाला है। 5000 करोड़ रुपए के बैंक फ्रॉड और मनी लॉन्ड्रिंग का मुख्‍य आरोपी नितिन अपने परिवार के साथ नाइजीरिया में छिपा हुआ है। इसके बारे में यहां पढ़ें।

पड़ताल की गहराई में जाने के लिए विश्‍वास न्‍यूज ने रितेश तिवारी से संपर्क किया। उन्‍होंने हमें बताया कि उनकी तस्‍वीर झूठे दावों के साथ कुछ सालों से वायरल हैं। तस्‍वीर पिछले चुनाव के दौरान की है।

अंत में हमने फर्जी पोस्‍ट करने वाले यूजर की जांच की। हमें पता चला कि फेसबुक यूजर डिंपल सिंह पंजाब का रहने वाला है। इसे 177 लोग फॉलो करते हैं।
निष्कर्ष: विश्‍वास न्‍यूज की जांच में नितिन संदेसरा के नाम से वायरल पोस्‍ट फर्जी साबित हुई। तस्‍वीर भगोड़े कारोबारी की नहीं, बल्कि पश्चिम बंगाल के भाजपा नेता रितेश तिवारी की है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
%d bloggers like this: