National News

बिहार चुनाव: ज्यादातर एग्जिट पोल में दावा, महागठबंधन की बन सकती है सरकार!

बिहार चुनाव: ज्यादातर एग्जिट पोल में दावा, महागठबंधन की बन सकती है सरकार!

बिहार में तेजस्‍वी यादव की अगुआई में नई सरकार बन सकती है। न्‍यूज चैनल आज तक के मुताबिक उनके एग्जिट पोल में महागठबंधन को इस चुनाव में प्रचंड बहुमत हासिल होता दिख रहा है। हालांकि दूसरे सर्वे एजेंसी के एग्जिट पोल में नीतीश कुमार की अगुआई में फिर से एनडीए की सरकार भी बन सकती है।

 

जागरण डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, तेजस्‍वी यादव के नेतृत्‍व में महागठबंधन भी रेस में आगे बना हुआ है। एग्जिट पोल के तमाम आंकड़े मिले-जुले नतीजे आने की उम्‍मीद जता रहे हैं।

 

हालांकि, एग्जिट पोल अनुमान होते हैं, परिणाम नहीं होते। आज के चुनाव के साथ ही बिहार में 243 सीटों पर तीन चरणों में विधानसभा चुनाव संपन्‍न हो गया है।

 

बिहार चुनाव: ज्यादातर एग्जिट पोल में दावा, महागठबंधन की बन सकती है सरकार! 2

शाम छह बजे मतदान प्रक्रिया खत्‍म हो गई। विभिन्‍न सर्वे एजेंसियां और न्‍यूज चैनल ने भाजपा, राजद, जदयू, लोजपा, हम आदि पार्टियों के अनुमानित आंकड़े जारी कर दिए हैं।

 

इसके जरिये कुछ हद तक बिहार में नई सरकार की तस्‍वीर साफ हो गई है।

 

न्‍यूज चैनल आज तक के एग्जिट पोल में बिहार में तेजस्‍वी यादव की अगुआई में राजद और कांग्रेस के महागठबंधन को बहुमत‍ मिलता हुआ दिखाया गया है।

 

इस एग्जिट पोल की मानें तो बिहार में तेजस्‍वी यादव सरकार बना रहे हैं। न्‍यूज चैनल के मुताबिक महागठबंधन बिहार में क्‍लीन स्‍वीप की ओर बढ़ रहा है।

 

आज तक के अनुसार महागठबंधन का वोट शेयर करीब 44 प्रतिशत रहा है। एनडीए को 69-91 सीटें मिल सकती हैं। महागठबंधन को 139-161 सीटें मिल सकती हैं। अन्‍य के खाते में 3 से 5 सीटें जा सकती हैं।

 

 

आज तक एग्जिट पोल

 

 

तमाम सर्वे में बढ़त मिलने के बाद महागठबंधन बिहार में सरकार बनाने की रेस में आगे दिख रहा है। इसके साथ ही राजद खेमे में खुशी की लहर दौड़ गई है।

 

तेजस्‍वी यादव के नेतृत्‍व में नई सरकार बनने की उम्‍मीद के साथ ही पटना में सैंकड़ों राजद कार्यकर्ता सड़क पर उतरकर जश्‍न मनाते दिखे। 10 लाख लोगों को नौकरी देने के दावे के साथ राजद ने इस बार चुनाव में बड़ा उलटफेर का माद्दा दिखाया है।

 

 

तीसरे और अंतिम दौर के चुनाव समाप्त होते ही एग्जिट पोल के रुझान आने शुरू ही गए। बिहार कांग्रेस ने एक्जिट पोल के रुझान आने के साथ ही दावा किया कि महागठबंधन बिहार में प्रचंड बहुमत से सरकार बनाने जा रही है।

 

बिहार कांग्रेस अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा ने कहा कि एक्जिट पोल महागठबंधन को जितनी सीटें दे रहा है हमें उससे कहीं ज्यादा सीटें मिलने जा रही हैं। डॉ झा ने कहा कि बिहार की जनता ने 2020 में बदलाव के लिए महागठबंधन पर भरोसा जताया है।

 

10 नवंबर को चुनाव के रिजल्ट आने के साथ ही एक्जिट पोल के रुझान भी पीछे छूट जाएंगे।

 

वहीं कांग्रेस विधान पार्षद प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि 10 नवंबर को हमारे परिणाम और बेहतर आने वाले है।

 

तमाम एक्जिट पोल भी बिहार के महागठबंधन को बढ़त में दिखा रहे हैं। यही दावा कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने भी किया है।

 

बिहार में एक बार फिर से नीतीश कुमार मुख्‍यमंत्री बनेंगे या फिर तेजस्‍वी यादव को सरकार की कमान मिलेगी। एग्जिट पोल के आंकड़े से तस्‍वीर अभी साफ नहीं हुई है।

 

यहां एनडीए या महागठबंधन में किसी की भी सरकार बन सकती है। तमाम सर्वे एजेंसियां और न्‍यूज चैनल के एग्जिट पोल के आंकड़े में नीतीश और तेजस्‍वी दोनों को नई सरकार बनाने के बेहद करीब बताया गया है।

 

 

रिपब्लिक भारत के एग्जिट पोल में महागठबंधन को 118 से 138 सीटें दी गई हैं। वहीं एनडीए गठबंधन को 91 से 117 सीटें दी गई हैं। दोनों गठबंधन के बीच कांटे का मुकाबला दिखाया गया है। अन्‍य को 8 से 14 सीटें दी गई हैं।

 

 

इंडिया टीवी के एग्जिट पोल में एनडीए को 116 और महागठबंधन को 120 सीटें दी गई हैं। अन्‍य के खाते में 7 सीटें जा सकती हैं।

 

बिहार में महागठबंधन की सरकार बन सकती है। न्‍यूज 24 के एग्जिट पोल में एनडीए गठबंधन को 104 से 128 सीटें दी गई हैं। जबकि महागठबंधन के खाते में 108 से 131 सीटें जा सकती हैं। अन्‍य के खाते में कोई सीट नहीं है।

 

बिहार में एक बार फिर से नीतीश सरकार बन रही है। एबीपी न्‍यूज और सी वोटर के सर्वे के अनुसार एग्जिट पोल के मुताबिक बिहार में नीतीश कुमार के एनडीए गठबंधन को 104 से 121 सीटें मिलती दिख रही है।

 

आरजेडी और कांग्रेस महागठबंधन को 108 से 131 सीटों का अनुमान लगाया गया है। अन्‍य के खाते में 4 से 8 सीटें जा सकती हैं।

 

बिहार में विधानसभा चुनाव में मतदान की प्रक्रिया समाप्‍त होते ही एग्जिट पोल की गूंज सुनाई देने लगी है। तमाम सर्वे एजेंसियां आंकड़ों को जुटाकर अब से कुछ देर में ही बिहार के चुनावी समर में किसकी जीत-किसकी हार का अनुमान लगाएंगे।

 

यहां महागठबंधन सरकार या एनडीए की दोबारा सरकार बनने की झलक देखी जा सकती है। हम यहां बता दें कि एग्जिट पोल, एडजेक्‍ट पोल नहीं होते। लेकिन, यह नतीजों के बेहद करीब माने जाते हैं। वोटरों के सैंपल साइज पर इसकी विश्‍वसनीयता और प्रमाणिकता की पुष्टि होती है।

 

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में मतदान की प्रक्रिया समाप्‍त हो गई है। हालांकि चुनाव आयोग के निर्देश के मुताबिक पोलिंग बूथों पर कतार में लगे मतदाताओं को वोटिंग का मौका दिया है।

 

अब थोड़ी देर में इवीएम और वीवीपैट को सील कर बज्रगृह लाया जाएगा। इसके बाद मतदान संबंधी आंकड़े का मिलान कर चुनाव आयोग आधिकारिक मतदान प्रतिशत जारी करेगा।

This is unedited, unformatted feed from hindi.siasat.com – Visit Siasat for more

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: