International News In Hindi

जीत के करीब पहुंचे बाइडन, ट्रंप खेमा कोर्ट में; अंतिम नतीजे घोषित नहीं

वाशिंगटन, एजेंसियां। अमेरिका के राष्ट्रपति भवन यानी ह्वाइट हाउस में डोनाल्ड ट्रंप दूसरे कार्यकाल के लिए बने रहेंगे या जो बाइडन राष्ट्रपति चुने जाएंगे? इस सवाल के जवाब का अमेरिका समेत पूरी दुनिया को बेसब्री से इंतजार है। लेकिन कांटे के मुकाबले में अब तक की मतगणना में राष्ट्रपति पद के डेमोक्रेटिक उम्मीदवार बाइडन अपने प्रतिद्वंद्वी रिपब्लिकन प्रत्याशी ट्रंप के मुकाबले बढ़त बनाए हुए हैं। वह धीरे-धीरे जीत के करीब पहुंच रहे हैं। वह जीत के जादुई आंकड़े यानी 270 इलेक्टोरल वोट पाने के एकदम नजदीक हैं। जबकि चुनाव में पिछड़ रहे ट्रंप ने धांधली का आरोप लगाया है। उनका खेमा कोर्ट में चला गया और मतपत्रों की दोबारा गिनती कराने की मांग की है।

अमेरिका में गत मंगलवार को राष्ट्रपति चुनाव हुआ था। गत दो दिनों से मतपत्रों की गिनती चल रही है, लेकिन अभी तक अंतिम नतीजे सामने नहीं आए हैं। नतीजोंे के लिहाज से कुछ प्रांत अहम बने हुए हैं। ट्रंप की जीत या हार में यही कुछ राज्य निर्णायक साबित होंगे।अमेरिकी मीडिया के अनुसार, 77 वर्षीय बाइडन को ह्वाइट हाउस पहुंचने के लिए महज छह से 17 इलेक्टोरल कॉलेज वोटों की दरकार है। उन्होंने बुधवार को कहा कि वह राष्ट्रपति चुनाव जीतने के लिए जरूरी जादुई संख्या यानी 270 इलेक्टोरल वोट पाने के लिए पर्याप्त राज्यों में जीत दर्ज कर रहे हैं। बाइडन ने अपने गृह प्रांत डेलावेयर में अपने समर्थकों से कहा, ‘यह मेरी या हमारी अकेले की जीत नहीं होगी। यह जीत अमेरिकी लोगों की होगी। हम 270 इलेक्टोरल वोट तक पहुंचने के लिए पर्याप्त राज्य जीत रहे हैं।’

इधर, ट्रंप ने बुधवार देर रात कई ट्वीट किए और पेंसिलवेनिया, मिशिगन, नार्थ कैरोलिना और जार्जिया में अपनी जीत की घोषणा कर दी। उन्होंने कहा, ‘हमने पेंसिलवेनिया, जार्जिया, नार्थ कैरोलिना में दावा किया है, जहां बढ़त मिल रही थी। इनके अलावा हम मिशिगन पर भी दावा कर रहे हैं। यहां गुप्त रूप से बड़ी संख्या में डाले गए मतपत्रों के बारे में जानकारी मिली है।’ एक अन्य ट्वीट में ट्रंप ने कहा, ‘चुनाव प्रणाली की अखंडता और राष्ट्रपति चुनाव को आघात पहुंचा है। इस पर हमें चर्चा करनी चाहिए।’ ट्रंप की चुनाव अभियान टीम ने जार्जिया, मिशिगन और पेंसिलवेनिया में मतगणना रोकने की मांग को लेकर मुकदमा दायर किया है। विस्कांसिन में मतों की दोबारा गिनती की मांग भी की है। जबकि अमेरिका के प्रमुख मीडिया समूह मिशिगन और विस्कांसिन में बाइडन को विजेता बता रहे हैं। जबकि पेंसिलवेनिया में ट्रंप को बढ़त दिखा रहे हैं।

%d bloggers like this: