National News

YONO SBI ऐप का इस्तेमाल इस तारीख को नहीं कर सकेंगे, बैंक ने कस्टमर्स को भेजा मैसेज

YONO SBI ऐप का इस्तेमाल इस तारीख को नहीं कर सकेंगे, बैंक ने कस्टमर्स को भेजा मैसेज

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) के कस्टमर्स हैं और आप योनो एसबीआई (YONO SBI) ऐप या वेब पोर्टल का इस्तेमाल करते हैं तो आपके लिए एक जरूरी खबर है. दरअसल, 11 और 13 अक्टूबर को योनो एसबीआई रात 12 बजे से सुबह 4 बजे तक मेंटेनेंस से जुड़े काम-काज की वजह से बंद रहेगा. यानी इस दौरान बैंक के इस ऐप या वेब पोर्टल से ट्रांजेक्शन या बैंकिंग सर्विसेस उपलब्ध नहीं रहेंगी.

एसबीआई ने इस बारे में अपने कस्टमर्स को मैसेज या ईमेल के जरिए जानकारी देना शुरू कर दिया है. साथ ही बैंक ने कस्टमर्स को यह भी सलाह दी है कि आप इस दौरान YONO Lite या Online SBI प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर सकते हैं.

योनो एसबीआई भारतीय स्टेट बैंक का एक इंटीग्रेटेड डिजिटल प्लेटफॉर्म है, जहां फाइनेंशियल सर्विसेस के अलावा दूसरे कई तरह की सर्विसेस जैसे फ्लाइट, ट्रेन, बस और टैक्सी की ऑनलाइन बुकिंग कर सकते हैं. ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं. मेडिकल बिल पेमेंट कर सकते हैं. यह योनो एसबीआई (YONO SBI) ऐप एंड्रॉयड और आईओएस दोनों प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है.

इस नंबर पर ले सकते हैं जानकारी 
अगर आपको योनो एसबीआई से जुड़ी कुछ जानकारी लेनी तो बैंक के टोल फ्री नंबर 1800 11 1101 पर संपर्क कर सकते हैं. योनो एसबीआई कस्टमर्स को इस प्लेटफॉर्म पर कई तरह के ऑफर भी देता है. इसमें आप लोन अप्लाई करने से लेकर बिल पेमेंट भी कर सकते हैं.

योनो एसबीआई यूजर
योनो एसबीआई को तीन साल पहले शुरू किया गया था. ताजा आंकड़ों के मुताबिक, इसके 2.60 करोड़ रजिस्टर्ड यूजर हैं. इसमें रोजना 55 लाख लॉग इन होते हैं और 4,000 से ज्यादा पर्सनल लोन अलॉटमेंट और 16 हजार के करीब योनो एग्री गोल्ड लोन दिये जाते हैं. योनो एसबीआई ने 100 से भी ज्यादा ई-कॉमर्स कंपनियों से पार्टनरशिप की है.

हालांकि हाल में खबर आई है कि एसबीआई, योनो (यू ऑनली नीड वन) को एक अलग सब्सिडियरी बनाने की तैयारी में है. बैंक अपने सभी स्टेकहोल्डर्स के साथ इस बारे में विचार कर रहा है. योनो के अलग सब्सिडियरी बन जाने के बाद स्टेट बैंक उसका इस्तेमाल करने वालों में एक होगा.

This is unedited, unformatted feed from hindi.siasat.com – Visit Siasat for more

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: