भुवनेश्वर. ओडिशा के नयागढ़ जिला चांदपुर थाना अंतर्गत राईपड़ा में मौजूद काजू जंगल को लेकर नुआसाही एवं आदिवासी साही दो मोहल्‍लों के बीच शुरु हुआ विवाद अब उग्र रूप धारण कर चुका है। राईपड़ा नुआसाही लोगों के हमले में आदिवासी मोहल्‍ले के दुर्गा प्रधान तथा बिरंचि प्रधान की मौत हो गई है। इसके साथ ही इस हमले में 25 आदिवासियों के घायल होने की भी सूचना मिली है जिसमें से छह की हालत गंभीर बताई गई है।

घायलों को खुर्दा जिला टांगी सामूहिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती किया गया है हालांकि 6 लोगों की हालत गंभीर होने से उन्हें भुवनेश्वर स्थानांतरित कर दिया गया है। घटना की सूचना मिलने के बाद सरणकुल एसडीपीओ एस टप्पो, चांदपुर आईआईसी धनेश्वर नाहाक, सब इंस्पेक्टर एस एस हरो मौके पर पहुंचकर घटना की छानबीन करते हुए उत्तेजना जारी रहने से गांव में एक सेक्शन पुलिस बल तैनात कर दिया है। नयागढ़ के एसपी ने चांदपुर थाने पहुंचकर कानून व्यवस्था की समीक्षा की है। हालांकि उन्होंने घटनास्थल का दौरा नहीं किया है।

आदिवासी साही के बेणुधर प्रधान के आरोप के मुताबिक राईपड़ा के सरपंच ब्रह्मचारी माझी, नुआसाही के अशोक भट्ट, केलू बेहेरा, सूर माझी, हड़िया बेहेरा, धनु बेहेरा, हाड़िया पलेई के साथ 40 लोगों के नाम पर मामला दर्ज किया गया है।