International News In Hindi

कोरोना के बाद कभी ‘नॉर्मल’ नहीं हो सकेगी ज़िंदगी: अमेरिकी वैज्ञानिक

कोविड-19 (Covid-19) के संक्रमण का आंकड़ा लगभग साढ़े 14 लाख हो चुका है. मौत की दर भी लगातार बढ़ते हुए 83 हजार से ज्यादा हो गई है. अमेरिका (America) में इसका आउटब्रेक सबसे ज्यादा है, जहां 400,549 कोरोना मरीजों में से तकरीबन 13 हजार जानें जानें चली गई हैं. 7 अप्रैल को ये दर बढ़कर 1,800 से ज्यादा हो गई, 24 घंटों के भीतर इतनी मौतें अबतक की सबसे ज्यादा मौतें हैं.

वाइट हाउस (White House) के शीर्ष अधिकारियों का मानना है कि मौत का आंकड़ा अभी और बढ़ने वाला है और आने वाले हफ्तों में ये ढाई लाख भी हो सकता है. टीके और इलाज की खोज में जुटे वैज्ञानिकों के मुखिया Dr Fauci ने इस बीच कहा कि ये सब हो भी जाए तो भी अब सबकुछ पहले जैसा नहीं रहेगा. Dr Fauci देश के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ हैं और National Institute of Allergy and Infectious Diseases (NIH) के डायरेक्टर हैं. प्रेस ब्रीफ के दौरान उनसे पूछा गया कि क्या बिना किसी वैक्सीन या इलाज के हालात सामान्य हो सकते हैं? तब उन्होंने ये कहा था.

असल में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण दुनिया भर में कारोबार और सामाजिक जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है. इसी वजह से पिछले सप्ताह वाइट हाउस में रेगुलर प्रेस ब्रीफिंग के दौरान जमा हुए वैज्ञानिकों के प्रमुख Dr Fauci ने कहा कि चीन के वुहान से जो वायरस फैला था, उसके बाद अब हम एक सोसायटी की तरह काम भले ही करने लगें, लेकिन वापस नॉर्मल नहीं हो सकेंगे. हालांकि वैक्सीन आने के बाद काफी राहत मिलेगी लेकिन तब भी हालात सामान्य नहीं होंगे.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: