National News

कोरोना के डर से मरीज के पास नहीं गए डॉक्टर, 18 वर्षीय युवती ने दम तोड़ा 

गोरखपुर, जेएनएन। बाबा राघव दास मेडिकल कॉलेज में कोरोना का भय दौड़ रहा है। बुखार व सांस फूलने वाले मरीजों के पास जाने से डॉक्टर परहेज करने लगे हैं। मेडिसिन वार्ड में भर्ती खजनी के नगवा जैतपुर की 18 वर्षीय युवती अंकिता यादव ने गुरुवार को इसलिए दम तोड़ दिया कि डॉक्टर उसे देखने नहीं गए। उसे बुखार के साथ सीने में संक्रमण व सांस लेने में दिक्कत थी। परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर उसे कोरोना संक्रमित समझकर उसके पास आ ही नहीं रहे थे।
बुधवार को दोपहर में परिजन उसे लेकर मेडिकल कालेज पहुंचे। पिता रामा यादव ने बताया कि बेटी दो दिन भर्ती रही। भर्ती के दौरान डॉक्टर और नर्स से कई बार जाकर बताया कि उसकी तबीयत बिगड़ रही है। इस पर भी कोई देखने नहीं पहुंचा। डॉक्टर व नर्स दूर से ही देख रही थीं। उनको यह भय सता रहा था कि कहीं यह कोरोना संक्रमित तो नहीं है। परिजन गुडडू यादव ने यह आरोप लगाया कि डॉक्टरों को लग रहा था कि यह कोरोना संक्रमित है, बावजूद इसके उसका सैंपल नहीं लिया गया।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: