MAHARASHTRA HINDI NEWS

महाराष्ट्र राज्य के सभी दिव्यांगों को एक महीने का  रेशन, स्वच्छता किट घरतक  मिलेगा; एक महीने की पेन्शन ऍडवांस देने का निर्णय : बैंक के व्यवहार भी कतार के बगेर होंगे; सामाजिक न्याय विभाग का निर्णय

मुंबई (दि. २७) : कोरोना विषाणू के संकट के दिनों में राज्य के दिव्यांगों को राहत देने के लिए सामाजिक न्याय विभाग के जरिए विशेष उपाययोजना बनाई गई है। कोरोना की लड़ाई में सभी दिव्यांगों का विशेष ध्यान रखनाजरूरी होने से यह निर्णय लिए जाने की बात राज्य के सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे ने कहीं है।

लॉकडाऊन के अवधि में दिव्यांगों को एक महीने का रेशन और स्वास्थ्य विषयक किट घरतक (घरपोच) वितरित की जा रही है और इसमें अनाज़, दाल, चावल, तेल आदि सामग्री समेत सैनिटायझर, मास्क, रुमाल, साबुन, डेटॉल, फिनेल ऐसे स्वास्थ्य विषयक सामग्री भी शामिल होगी। यह स्वास्थ्य विषयक सामग्री उस-उस जिले के स्थानीय दिव्यांग कल्याण निधि से उपलब्ध करें, यह सूचित किया गया है। राज्य दिव्यांग कल्याण मंडल के आयुक्त ने इस संदर्भ में निर्देश सभी विभागीय आयुक्त के जरिये राज्य के सभी जिलाधिकारियों को दिए है।

अन्य दिव्यांग व्यक्तियों को यह सामग्री समीप के रेशन दुकान से उपलब्ध कराया जाए और दिव्यांग व्यक्ति स्वयं तथा उनके परिवार के एक व्यक्ति बिना कतार में रहे यह सामग्री ले सकेंगे। इसके अलावा जहां-जहां पर ‘कम्युनिटी किचन’ तथा तत्सम सुविधा शुरू है या फिर प्रस्तावित है, वहाँ उस जगह पर जरूरतमंद दिव्यांग व्यक्ति को घरतक खाना /नाश्ते के टिफिन उपलब्ध किए जाएँगे। दिव्यांग व्यक्तियों को बैंक, पतसंस्था या फिर किसी भी वित्तीय संस्थाओं में बिना कतार में लगे सुविधा दी जाए, यह भी इस निर्णय के द्वारा निर्देशित किया गया है। मनोरुग्ण, बेवारस या फिर निराश्रित व्यक्ति की सुविधा स्थानीय शेलटर होम, आश्रम तथा बालगृह में की जाए, यह निर्देश भी इस निणर्य द्वारा दिए गए है और पेन्शन लाभार्थी दिव्यांगों को एक महीने की पेन्शन ऍडवांस देने का निर्णय भी लिया गया है।

दरमियान सभी जिलाधिकारियों को इस निर्णय के द्वारा प्रत्येक जिले के आपदा व्यवस्थापन कक्ष में दिव्यांगों को एक हेल्पलाईन नंबर टोल फ्री के रूप में प्राप्त कराने और सभी दिव्यांगों को विविध माध्यम से जानकारी दिए जाने, ताकि इन सभी सुविधायों को मिलने के बारे में उनमें किसी भी प्रकार संभ्रम निर्माण नहीं होगा, ऐसे निर्देश भी दिए गए है। इस आपदा की स्थिति में राज्य के सभी दिव्यांगों को जीवनावश्यक वस्तू एवं स्वास्थ्य विषयक सुविधा आम लोगों की तरह ही मिले और किसी भी अतिदिव्यांग, बेवारस आदि व्यक्ति को परेशानी न हो, यहीं हमारा प्रयास होने की बात राज्य के सामाजिक न्याय मंत्री धनंजय मुंडे ने कहा है। दरमियान इन निर्णयों के साथ-साथ दिव्यांगों के लिए लॉकडाऊन के समय मदद के लिए राज्य के सभी महत्वपूर्ण ऐसे सरकारी कार्यालयें, पुलिस अधिकारियों के कार्यालय और सभी जिलाधिकारी कार्यालय के दूरध्वनी क्रमांक की सूची भी उपलब्ध कराई गई है। इसके लिए इस लिंक पर क्लिक कर सकते है :

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: