MAHARASHTRA NEWS

खाद्य, नागरी आपूर्ति विभाग के जरिए विदर्भ, मराठवाड़ा के किसानों को बड़ी राहत: विदर्भ मराठवाड़ा के एपीएल (केशरी) रेशनकार्डधारक किसानों को रियायत के दर में अनाज़ मिलेगा

मुंबई,दि. २७ :- राष्ट्रीय खाद्यसुरक्षा अधिनियम २०१३ अंतर्गत शामिल नहीं है, ऐसे राज्य के विदर्भ और मराठवाड़ा के १४ जिलों के एपीएल (केशरी) रेशनकार्ड (शिधापत्रिका) धारक किसानों को राष्ट्रीय खाद्यसुरक्षा का लाभ दिया जाएगा। इस योजना के माध्यम से अप्रैल, मई और जून २०२० इन तीन महीने के लिए रियायत दर में विदर्भ और मराठवाड़ा के इन किसानों को प्रति यक्ति ५ किलो अनाज़ उपलब्ध कराए जाने की जानकारी राज्य के खाद्य, नागरी आपूर्ति एवं ग्राहक संरक्षण मंत्री छगन भुजबल ने दी है।

देशभर में कोरोना वायरस के प्रकोप से लॉकडाऊन घोषित किया गया है और इस अवधि में राज्य की जनता को खाद्य, अनाज़ पर्याप्त और रियायत दर में उपलब्ध हो सके, इसके लिए राज्य के खाद्य, नागरी आपूर्ति विभाग की ओर से विविध योजनाएं तैयार की जा रही है। उसी तर्ज पर महाराष्ट्र के सर्वाधिक आत्महत्याग्रस्त के विदर्भ और मराठवाड़ा के १४ जिलों के एपीएल (केशरी) रेशनकार्ड धारक किसानों को राष्ट्रीय खाद्यसुरक्षा लाभ देने का निणर्य लिया गया है और उन्हें रियायत दर में गेंहू, चावल, प्रति व्यक्ति पाँच किलो अनाज़ उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है।

इस निर्णय के अनुसार राज्य के औरंगाबाद विभाग के औरंगाबाद, जालना, नांदेड, बीड, परभणी उस्मानाबाद, लातूर, हिंगोली, अमरावती विभाग के अमरावती, वाशिम, अकोला, बुलढाणा, यवतमाल और नागपूर विभाग के वर्धा इन १४ जिलों के किसानों को राष्ट्रीय खाद्यसुरक्षा योजना की तर्ज पर रियायत दर से अनाज़ उपलब्ध कराया जाएगा। सरकार के दि.२४ जुलाई २०१५ के शासन निर्णय के अनुसार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में शामिल नहीं है , ऐसे उपरोक्त १४ जिलों के एपीएल (केशरी) रेशनकार्ड धारक किसानों को इस योजना के द्वारा अप्रैल, मई और जून २०२० इस तीन महीने के लिए रियायत दर में अनाज़ उपलब्ध कराए जाने की जानकारी मंत्री छगन भुजबल ने दी है। इस निर्णय से विदर्भ मराठवाड़ा के १४ जिलों के एपीएल (केशरी) रेशनकार्ड धारक किसानों को इसका लाभ मिलेगा।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: