नांदेड़ 12मार्च (वर्क़ ताज़ा न्यूज़)करूणा वाइरस के मरीज़ों की तादाद में इज़ाफ़ा के साथ ही तिजारत और कारोबार पर भी असर-अंदाज़ होने लगा है।सोशल मीडीया के ज़रीया फैलाए जा रहे अफवाओं औरफ़ीक न्यूज़ का असर चिकन के कारोबार पर भी पड़ने लगा है।सोशल मीडीया के ज़रीया फैलाई जा रही अफ़्वाहों के मुताबिक़ चिकन के गोश्त में करूणा वाइरस के असरात हैं

चिकन गोश्त के कारोबारों से जड़े लोगों के मुताबिक़ चिकन गोश्त की क़ीमत में40फ़ीसद कमी आगई है।देगलवरनाका पर वाक़्य नूर वाला पोल्ट्रीफार्म के मालिक मुहम्मद सलीम अब्दालज़ एक के आज हमारे नुमाइंदे को बताया कि नांदेड़ में फ़िलहाल ज़िंदा मुर्ग़ होलसेल में16ता18 रुपय में फ़रोख़त हो रहा है । जिससे अंदाज़ा होता है कि वाइरस की अफ़्वाह से चिकन के नर्ख़ में तक़रीबन40फ़ीसद कमी आगई है ।जबकि चिल्लर ताजिर ज़िंदा मुर्ग़60 रुपय फ़ी किलो फ़रोख़त कर रहे हैं और खुला गोश्त100 रुपय फ़ी किलो फ़रोख़त किया जा रहा है

۔चंद रोज़ क़बल ज़िंदा मुर्ग़100 रुपय फ़ी किलो फ़रोख़त हो रहा था जबकि खुला गोश्त140 रुपय फ़ी किलो फ़रोख़त हो रहा था ।उनका कहना है कि नांदेड़ में रोज़ाना आम दिनों में20ता22कंटल चिकन फ़रोख़त होता था लेकिन अब हाल ये है कि महिज़ तीनता पाँच कंटल ही मुर्ग़ फ़रोख़त हो रहा है ।जिससे अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि मुर्ग़ ताजिरों को बड़े पैमाने पर माली नुक़्सान उठाना पड़ रहा है