National News

दुनिया की 5 बड़ी खबरें: पाक में पख्तूनों को लेकर बवाल और इमरान नहीं चाहते भारतीय सामान

पाकिस्तान : ‘लापता’ पख्तूनों को तुरंत अदालतों में पेश करने की मांग

पाकिस्तान के पख्तून समाज ने सरकार से मांग की है कि उन पख्तूनों को तुरंत अदालतों में पेश किया जाए जो देश में चले आतंकवाद विरोधी अभियान में ‘जबरन गायब’ कर दिए गए हैं। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, अवामी नेशनल पार्टी के तत्वावधान में पख्तून समाज की जिरगा (पंचायत) हुई जिसमें समाज की नामचीन हस्तियों समेत बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया। इसमें सर्वसम्मति से संघीय सरकार के समक्ष पेश करने के लिए 21 सूत्री मांगों को मंजूरी दी गई।

जिरगा ने कहा कि पख्तून समाज की सुरक्षा व समाज के संवैधानिक अधिकारों की सुरक्षा के लिए सरकार तमाम आतंकवादी संगठनों और निजी मिलिशियाओं पर तुरंत प्रतिबंध लगाए। इसमें कहा गया कि आतंकवाद से सर्वाधिक नुकसान पख्तून समाज का हुआ है। यह चिंता की बात है कि सैन्य अभियान के बावजूद आज भी आतंकवादी संगठन सक्रिय हैं।

इमरान ने भारत से कीटनाशक आयात करने से मना किया

भारत से कीटनाशक मंगाने के पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के प्रस्ताव को प्रधानमंत्री इमरान खान ने नामंजूर कर दिया। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई जिसमें देश की आर्थिक हालत पर विचार किया गया और कई अहम फैसले किए गए। बैठक में यह राय बनी कि अभी भी हालात ऐसे नहीं हैं जिसमें भारत के साथ व्यापार किया जा सके।

प्रधानमंत्री की सूचना एवं प्रसारण मामलों की सलाहकार फिरदौस आशिक अवान ने संघीय कैबिनेट की बैठक की जानकारी देते हुए बताया कि भारत से कीड़े मारने वाली दवाओं को मंगाने के बारे में एक बार फिर विचार किया गया।

पाकिस्तान में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 20 हुई

पाकिस्तान में कोरोना वायरस के दो और मामलों की पुष्टि हुई है। इन्हें मिलाकर देश में अब तक 20 मरीजों में इस वायरस के होने की पुष्टि हो चुकी है। उधर, ईरान से लगी तफ्तान सीमा पर कोरोना वायरस संदिग्धों के लिए बनाए गए विशेष शिविरों में पाकिस्तान के लोगों की संख्या चार हजार तक पहुंच गई है। यह सभी कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित ईरान से वापस स्वदेश लौटे हैं। इन्हें सीमा पर शिविरों में रोका गया है। इन्हें कुछ दिन तक यहां एकांत में रखा जाएगा और जांच के बाद जाने दिया जाएगा। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के जो मरीज सामने आए हैं, उनमें से अधिकांश ईरान से यात्रा कर लौटे हैं।

अफगान राष्ट्रपति ने 5000 तालिबान कैदियों की रिहाई पर किए हस्ताक्षर

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने सरकारी प्रतिनिधिमंडल और चरमपंथी समूह के बीच अंतर-अफगान वार्ता के लिए एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। बुधवार को उनके प्रवक्ता ने इस बारे में जानकारी दी। समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, अफगानिस्तान में सरकार के खिलाफ तालिबान के 19 साल पुराने युद्ध को खत्म करने के लिए गनी द्वारा 5000 कैदियों की रिहाई बातचीत की दिशा में पहला कदम है।

प्रवक्ता सादिक सिद्दिकी ने आधी रात को ट्वीट किया, “तालिबान और अफगान सरकार के बीच बातचीत की शुरुआत के एक स्वीकृत ढांचे के अनुसार तालिबान कैदियों की रिहाई पर राष्ट्रपति गनी ने हस्ताक्षर करके की है।”

बिडेन, सैंडर्स की रैलियां कोरोनावायरस के कारण रद्द

अमेरिका में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी की दौड़ में दो प्रमुख डेमोक्रेटिक दावेदारों, पूर्व अमेरिकी उपराष्ट्रपति जो बिडेन और सीनेटर बर्नी सैंडर्स ने कोरोनावायरस के चलते मंगलवार रात को होने वाली अपनी रैलियां रद्द कर दीं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, बिडेन के चुनावी अभियान संचालकों ने कहा है कि वे आगे होने वाले कार्यक्रमों के लिए भी सार्वजनिक स्वास्थ्य अधिकारियों से सलाह लेते रहेंगे। वहीं सैंडर्स अभियान ने अपने बयान में कहा कि भविष्य के अपने कार्यक्रमों को लेकर वे स्थिति के आधार पर मूल्यांकन करेंगे।

इन दोनों की रैलियां रद्द होने को 2020 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में पहली बाधा के तौर पर देखा जा रहा है।

Source With Thanks

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: