National News

जगन्नाथ मंदिर : पहले सिर्फ ‘हिंदू’ खतरे में था अब उनके ‘भगवान’ भी खतरे में हैं- सोशल

यस बैंक संकट की चपेट में इंसान ही नहीं बल्कि भगवान भी आ गए हैं। यस बैंक में पुरी के सदियों पुराने भगवान जगन्नाथ मंदिर का 545 करोड़ रुपया फंस गया है। बैंक में मंदिर का पैसा फंसने से पुजारी और श्रद्धालु चिंतित हैं। इन लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार लगाई है।

इस ख़बर के सामने आने के बाद केंद्र की मोदी सरकार विपक्षियों के निशाने पर आ गई है। विपक्षी नेता बीजेपी पर हिंदुओं के मंदिर का पैसा लुटवाने का आरोप लगा रहे हैं। वहीँ सोशल मीडिया पर लोग भगवान को खतरे में बता रहे है।

ट्विटर पर क्या बोले लोग-

एक यूजर ने लिखा- ‘पहले हिन्दू खतरे में था अब हिन्दू के ‘भगवान’ भी खतरे में हैं’

कांग्रेस नेता रोहन गुप्ता ने लिखा- मोदी राज में क्या हिन्दु क्या मुसलमान, जब बच नहीं पाए भगवान !

शिल्पी सिंह ने लिखा- आम लोगों की बात छोड़िए अब तो भगवान का पैसा भी यस बैंक में फंस गया है! जिनके पैसे इस बैंक में जमा हैं, वे भगवान भरोसे हो गए हैं लेकिन प्रभु जगन्नाथ क्या करें? भगवान जगन्नाथ का 545 करोड़ रुपया YES BANK में फंसा!

बता दें कि यस बैंक में भगवान जगन्नाथ मंदिर का 545 करोड़ रुपए जमा है। मंदिर को ये पैसे श्रद्धालुओं के चढ़ावे और दान से मिले थे। जो अब बैंक पर लगी ताज़ा पाबंदियों के बाद फंस गए हैं। मंदिर के प्रबंधकों के चिंता है कि अब मंदिर के देखरेख का कार्य कैसे होगा।

मंदिर के दैतापति (सेवक) विनायक दासमहापात्रा ने कहा कि रिजर्व बैंक द्वारा येस बैंक पर रोक से सेवक और भक्त आशंकित हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हम उन लोगों के खिलाफ जांच की मांग करते हैं जिन्होंने थोड़े ज्यादा ब्याज के लालच में निजी क्षेत्र के बैंक में इतनी बड़ी राशि जमा कराई है।’’

The post जगन्नाथ मंदिर : पहले सिर्फ ‘हिंदू’ खतरे में था अब उनके ‘भगवान’ भी खतरे में हैं- सोशल appeared first on Bolta Hindustan.

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: