NANDED NEWS IN HINDI

NPR का बाईकॉट वक़्त की अहम ज़रूरत साबिक़ आई पी ऐस ऑफीसर अबदुर्रहमान

नांदेड़:(वर्क़ ताज़ा न्यूज़)शहरीयत तरमीमी क़ानून के ख़िलाफ़ दिल्ली के शाहीन बाग़ की तर्ज़ पर नांदेड़ में कल जमाती तहरीक की जानिब से शाहीन बाग़ नांदेड़ की आवाज़ के अनवान से बे मुद्दत धरने में अब तक कई नामवर हस्तीयों ने शिरकत की ।उनमें एक अहम नाम साबिक़ आई पी ऐस ऑफीसर अबदुर्रहमान का नाम भी शामिल है ।८ मार्च यौम ख़वातीन के मौक़ा पर अबदुर्रहमान ने शाहीन बाग़ में शिरकत की और अपने तास्सुरात ज़ाहिर किए ।जिसमें उन्होंने कहा कि सी ए ए ,एन आरसी ,एन पी आर को लेकर मुस्लमानों में एक डर-ओ-ख़ौफ़ का माहौल पैदा किया जा रहा है लेकिन हमें पूरी उम्मीद है कि ये काला क़ानून हुकूमत को वापिस लेना होगा

PC: Munnawar Khan Pathan

हमारी लड़ाई ये अकेले की लड़ाई नहीं बल्कि इस मलिक के दलित ,आदीवासी ,किसान ,मज़दूर और पसमांदा तबक़ात की लड़ाई है आज हमारे शाहीन बाग़ की ये ख़वातीन इस लिए बैठी है वो सिर्फ और सिर्फ इन्सानियत को बचाने के लिए आईन को बचाने के लिए यहां पर बैठी है आज हमें फ़ख़र है कि वो जामिआ की दो तालिबात ने इस तहरीक को नई सिम्त दी ।और आज दिल्ली का शाहीन बाग़ पिछले सत्तर दिनों से आबाद है शाहीन बाग़ को बदनाम करने की हुकूमत ने भरपूर कोशिश की लेकिन इस मलिक के दस्तूर को बचाने के लिए हमारी माएं बहने टस से मस नहीं हुई ।ऐसी पाँच ख़वातीन जिनकी वजह से हिन्दोस्तान में ख़वातीन में एक नई तहरीक का जज़बा पैदा हुआ ।उन्होंने कहा कि मोदी हुकूमत को चाहीए कि वो मुल्क में बेरोज़गारी को दूर करे ,किसानों के क़र्ज़ माफ़ी के इक़दामात ,मुल्क में बढ़ रही बेरोज़गारी को दूर करने के लिए इक़दामात करे ये सब करने के बजाय शहरीयत तरमीमी क़ानून लाकर मुल्क में नफ़रत का माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है

उन्होंने कहा कि यूपी की योगी हुकूमत खुले आम ग़ुंडा गर्दी का मुज़ाहरा कर रही है ।फ़साद मुल्ज़िमीन के ख़िलाफ़ कार्रवाई के नाम पर उनकी तस्वीरों को होर्डिंग कर उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रही है ।अबदुर्रहमान ने अपनी तक़रीर के इख़तताम पर कहा कि इन पी आर ही दरासल उन आरसी है इस लिए इन पी आर का सख़्ती से बाईकॉट करना ज़रूरी है ।

जो लोग आपके पास इन पी आर के लिए आएँगे उन्हें किसी भी तरह की कोई मालूमात नहीं देना है ।इस जलसा से कल जमाती तहरीक के सदर मुफ़्ती अय्यूब क़ासिमी ,तहरीक के ज़िम्मा दारान में शामिल सय्यद मुईन ,मौलाना सरवर क़ासिमी ,मौलाना आसिफ़ नदवी ,मौलाना अज़ीम रिज़वी ,शमीम अबदुल्लाह-ओ-दीगर ने अपने ख़्यालात ज़ाहिर किए

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: