National News

दुनिया की 5 बड़ी खबरें: आतंकवाद पर मुश्किल में पकिस्तान, एफएटीएफ ने थोपीं नई शर्तें और एक साथ आए रूस और अमेरिका

आतंकवाद पर मुश्किल में पकिस्तान, एफएटीएफ ने थोपीं नई शर्ते

आतंक वित्तपोषण और धनशोधन पर लगाम लगाने की कवायद के तहत फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) ने पाकिस्तान पर कुछ नई शर्ते लगाई हैं जिनका पालन उसे करना होगा। ‘जंग’ में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, एफएटीएफ की नई शर्तो में पाकिस्तान से कहा गया है कि विदेश यात्रा करने वाले पाकिस्तानियों का डेटा बैंक बनाया जाए जिसमें इसे खास रूप से दर्ज किया जाए कि विदेश यात्रा करने वाला अपने साथ कितनी करेंसी और कौन से कीमती सामान लेकर गया था।

एफएटीएफ ने साथ ही कहा है कि ऐसे व्यक्ति के टिकट और विदेश में इसके द्वारा खर्च किए गए धन का विवरण भी देना होगा। यह भी बताना होगा कि विदेश में जो धन खर्च किया गया, वह कहां से अर्जित किया गया था। संबंधित व्यक्ति के पारिवारिक कारोबार का ब्योरा भी देना होगा। अखबार की रिपोर्ट में बताया गया है कि इन शर्तो पर अमल के लिए तस्करी रोधी अधिनियम में बदलाव अगले हफ्ते होने की संभावना है।

ओआईसी से कश्मीर पर और ध्यान देने की अपेक्षा : पाकिस्तान

पाकिस्तान ने कहा है कि वह इस्लामी सहयोग संगठन (ओआईसी) से कश्मीर मुद्दे पर और ध्यान केंद्रित करने की अपेक्षा कर रहा है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने ‘द नेशन’ से बातचीत में कहा कि जम्मू-कश्मीर पर ओआईसी महासचिव यूसुफ एम.अल दोबे के पाकिस्तान दौरे से संगठन का कश्मीर मुद्दे पर फोकस कहीं अधिक बढ़ा है। उन्होंने कहा, “हम चाहते हैं कि यह फोकस और बढ़े। ओआईसी एक बड़ा मंच है।” कुरैशी ने दावा किया कि ‘भारत कश्मीर मामले में अलग-थलग पड़ गया है। पूरी दुनिया हमारे साथ है।’ उन्होंने कहा कि ओआईसी ने कश्मीर पर पाकिस्तान के रुख का समर्थन किया है। संगठन का नेतृत्व पाकिस्तान से इस मुद्दे को निपटाने के लिए भारत को राजी करने का प्रयास कर रहा है।

अमेरिका और रूस ने कहा, ‘इस्लामी अमीरात अफगानिस्तान’ मंजूर नहीं

अमेरिका और रूस ने इस बात पर सहमति जताई है कि वे एक साथ मिलकर अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को इस बात के लिए राजी करेंगे कि वह ‘इस्लामी अमीरात अफगानिस्तान’ को फिर से बहाल करने के किसी प्रयास का समर्थन ना करे। खुद को सत्ता से हटाए जाने से पहले तालिबान अपनी सरकार को ‘इस्लामी अमीरात अफगानिस्तान’ कहकर संबोधित करते थे। ‘डॉन’ में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी विदेश विभाग द्वारा जारी संयुक्त बयान में कहा गया है कि अमेरिका और रूस अंतर अफगान वार्ता और राजनैतिक प्रक्रिया से तय होने वाली अफगान इस्लामी हुकूमत की दिशा में तालिबान की प्रतिबद्धता की सराहना करते हैं। लेकिन, वे यह दोहराना चाहते हैं कि ‘इस्लामी अमीरात अफगानिस्तान’ को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय और संयुक्त राष्ट्र की मान्यता नहीं प्राप्त है। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय इसे स्वीकार करने या बहाल करने के किसी प्रयास का समर्थन नहीं करेगा।

इमरान ने हिंदू समुदाय को होली की बधाई दी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने देश के हिंदू समुदाय को होली की मुबारकबाद दी है। देश के कई अन्य नेताओं ने भी इस अवसर पर हिंदू समुदाय के लिए शुभकामना संदेश दिए हैं। पाकिस्तान में हिंदू बहुल इलाकों में होली का पर्व पारंपरिक उल्लास से मनाया जा रहा है। मंदिरों को सजाया गया है। घरों में विशेष पकवान के प्रबंध किए गए हैं। हिंदू बहुल इलाकों में सुरक्षा के भी खास इंतजाम किए गए हैं। प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट के जरिए होली की बधाई दी। उन्होंने कहा, “अपने हिंदू समुदाय को समृद्ध एवं शांतिपूर्ण होली की शुभकामनाएं और मुबारकबाद देता हूं। रंगों का त्योहार।”

बांग्लादेश में सामने आया कोरोनावायरस का पहला मामला

बांग्लादेश ने अपने देश के पहले कोरोनावायरस मामले की पुष्टि की है। हालांकि सरकार ने लोगों से घबराने के लिए नहीं कहा है और इस बीमारी के लक्षण दिखने पर चिकित्सकों से परामर्श लेने के लिए कहा है। डेली स्टार अखबार ने इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी, डिजीज कंट्रोल एंड रिसर्च (आईईडीसीआर) के निदेशक प्रोफेसर मीरजादे सबरीना फ्लोरा के रविवार को दिए बयान का हवाला देते हुए कहा कि शनिवार को 20 से 35 आयुवर्ग के बीच के एक व्यक्ति और महिला में वायरस के लेकर किए गए टेस्ट की रिपोर्ट सकारात्मक आई है। दोनों एक ही परिवार के हैं।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Source With Thanks

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: