National News

ईरान में करोना वायरस से ठीक होने के लिए पी जहरीली शराब, 27 लोगों की मौत

ईरान में करोना वायरस से ठीक होने के लिए पी जहरीली शराब, 27 लोगों की मौत

ईरान में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस को काबू करने के प्रयास में करीब 70 हजार कैदियों को अस्थायी तौर पर रिहा कर दिया गया। ईरान के सभी प्रांत कोरोना वायरस की चपेट में हैं। इस बीच ईरान के दो प्रांतों में जहरीली शराब पीने से 27 लोगों की मौत हो गई। ऐसी अफवाह उड़ी थी कि शराब पीने से कोरोना वायरस के संक्रमण से मुकाबला किया जा सकता है। ईरान के न्याय विभाग के प्रमुख इब्राहिम रैसी ने सोमवार को कैदियों को अस्थायी तौर पर रिहा करने की घोषणा की।

उन्होंने हालांकि यह नहीं बताया कि इन कैदियों की जेल में वापसी कब होगी। कैदियों को छोड़े जाने से समाज में डर के सवाल पर उन्होंने कहा कि इससे किसी भी प्रकार की कोई असुरक्षा पैदा नहीं होगी। ईरानी अधिकारियों ने आशंका जताई है कि आने वाले दिनों में वायरस का संक्रमण का खतरा और बढ़ सकता है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने लागों को घरों में ही रहने के साथ यात्रा से बचने की भी सलाह दी है।

इटली की एक जेल में कोरोना वायरस को लेकर लगाई गई पाबंदियों की वजह से आक्रोशित कैदियों ने कई सुरक्षाकर्मियों को बंधक बना लिया। इन्हें छुड़ाने की कोशिश में पुलिस की कार्रवाई में छह कैदियों की मौत हो गई। इटली ने कोरोना पर नियंत्रण की कोशिश में रविवार को आदेश जारी कर कैदियों और आगंतुकों की सीधी मुलाकातों को सीमित कर दिया था। चीन के बाद कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित इटली में संक्रमण की रोकथाम के लिए बेहद सख्त कदमों की घोषणा की है। देश की करीब एक चौथाई आबादी को एक तरह से घरों में कैद रहने की सलाह दी गई है। तीन अप्रैल तक स्कूल, सिनेमाघर, थियेटर, नाइट क्लब और म्यूजियम बंद कर दिए गए हैं। इटली में रविवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 133 मौतें हुई थीं।

This post appeared first on The Siasat.com Source

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: