International News In Hindi

ईरान में Coronavirus से दो उल्मा और एक प्रासीक्यूटर समेत49 हलाकतें

ईरान में गुज़शता24 घंटे में करूणा वाइरस से दो उल्मा रज़ा मुदर्रिसी और अली हुसैनी और एक साबिक़ प्रासीक्यूटर मूसा तो रब ज़ादा समेत49 अफ़राद दम तोड़ गए हैं।ईरान में करूणा वाइरस से एक दिन में ये सबसे ज़्यादा हलाकतें हैं

ईरान की वज़ारत-ए-सेहत ने इतवार को एक बयान में बताया है कि करूणा वाइरस मलिक के तमाम31 सूबों में फैल चुका है और6566 केसों की तसदीक़ हो चुकी है।बाअज़ ग़ैर जांबदार ज़राए और मुबस्सिरीन के मुताबिक़ इस मोहलिक वाइरस से मरने और मुतास्सिर होने वालों की तादाद इस से कहीं ज़्यादा है

ईरान की नेम सरकारी ख़बररसां एजैंसी ”ख़बर ऑनलाइन के मुताबिक़ मुतवफ़्फ़ा आलिम रज़ा मुदर्रिसी कुम शहर से ताल्लुक़ रखते थे।दूसरे आलम अली हुसैनी सूबा गुलिस्तान में वाक़्य शहराली आबाद में सरकारी इस्लामी तरक़्क़ीयाती तंज़ीम के सरबराह थे

ईरान की एक नियम सरकारी ख़बररसां एजैंसी महर ने जुमा को अली हुसैनी की मौत की इत्तिला दी थी लेकिन ये नहीं बताया था कि वो कैसे फ़ौत हुए हैं।अलबत्ता दूसरे मीडीया ज़राए का कहना है कि वो करूणा वाइरस से ही फ़ौत हुए हैं

बाअज़ ग़ैर मुसद्दिक़ा इत्तिलाआत के मुताबिक़ ईरान के दो और आलिम मुस्तफ़ा अम्मीनी और नेअमत अल्लाह जवादी बामयानी भी करूणा वाइरस का शिकार हो कर दम तोड़ गए हैं

मूसा तो रब ज़ादा सूबा ग़ैलान में वाक़्य शहर आस्ताँ-ए-अशर्फ़ीया में प्रासीक्यूटर रहे थे।ईरानी अदलिया से वाबस्ता एक टेलीगराम चैनल ने करूणा वाइरस से उनकी हलाकत की इत्तिला दी है।ईरान के शुमाली सूबा ग़ैलान में सबसे पहले चीन से आने वाला करूणा वाइरस फैला था

वाज़िह रहे कि ईरान के मुतअद्दिद सरकारी ओहदेदार और मुंतख़ब नमाईंदे करूणा वाइरस का शिकार हो कर मौत के मुंह में जा चुके हैं।उनमें ईरान के दो नायब सदूर, रहबर-ए-आला आयत-ए-अल्लाह अली खामना ई के दो मुशीर और पार्लीमान की रुकन फ़ातिमा रहबर भी शामिल हैं।ईरान की मुसालहती कौंसल के रुकन मुहम्मद मीर मुहम्मदी गुज़शता हफ़्ते इस मोहलिक वाइरस से बीमार पड़ कर फ़ौत हो गए थे

उलार बया डाट नैट

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: